लखनऊ। लॉक डाउन के बाद अपने घर लौट रहे दर्जनों प्रवासी मजदूर सड़क हादसे का शिकार हो गए जिनमे दर्जनों प्रवासी मजदूरों ने अपनी जान तक गंवा दी है।

प्रवासी मजदूरों के लिए कांग्रेस ने चलाई 1000 बसें चलाने का किया एलान। कहा हम मजदूरों की मदद करना चाहते है

आज भी हाइवे पर हजारों की संख्या में प्रवासी मजदूर पैदल चलते हुए और विभिन्न माध्यम से लौटते हुए दिखाई दे जाएंगे।

इन पैदल जा रहे प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुँचाने की जिम्मेदारी कांग्रेस उठाना चाहती है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर दूसरे राज्यों से पैदल चले आ रहे मजदूरों के लिए बसें चलाने की अनुमति मांगी है।

कोरोना महामारी को देखते हुए जिस प्रकार से गरीब मजदूर को परेशानियां झेलने पड़ रही है। और दूसरे शहर में मजदूर फसे हुए है।

जो हजारों किलोमीटर का सफर पैदल तय कर रहे है इन परेशानियों को ध्यान में रखते हुए कांग्रेस पार्टी ने 1000 बसें चलाने का किया एलान।

बसों को शहर में चलने की अनुमति के लिए प्रियंका गाँधी ने उप सरकार को भेजा पत्र।

500 बसें गाजीपुर बॉर्डर गाजियाबाद और 500 नोएडा बॉर्डर से चलना चाहते है


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here