TikTok App Ban in India – Chingari has become Volcano

TikTok App Ban in India: भारत सरकार ने सोमवार को देश में 59 चीनी ऐप को प्रतिबंधित करने की घोषणा की। एक दिन बाद सबसे लोकप्रिय लघु वीडियो अनुप्रयोगों में से एक टिकटॉक को ऐप्पल ऐप स्टोर और Google Play स्टोर से नीचे ले जाया गया है

टिक टोक से बेहतरीन लागु वीडियोस वाला इंडियन एप्लीकेशन आ गया है- CHINGARI

लेकिन इसी के साथ आपको बता दे। टिक टोक से बेहतरीन लागु वीडियोस वाला इंडियन एप्लीकेशन CHINGARI आ गया है जो की बहुत अच्छा और शानदार है जिसमे किसी भी तरीके से डाटा चोरी होने का डर नहीं है। जो की मेड इन इंडिया है

10 मिलियन+ डोलोएड्स भी है ये एक बेहतरीन अल्टरनेटिव है टिक टोक यूजर यहाँ पर भी अपनी वही कला दिखा सकते है और दोबारा से से अपनी ऑडियंस के साथ जुड़ है

इसमें भी पॉपुलर टैग और ALL फैसिलिटी है और साथ ही एक न्य फीचर ये है के एंटरटेनमेंट के साथ साथ आप देश विदेश की खबर भी पद सकते है

न्यूज़ सेक्शन अलग से दिया है एक स्लाइड में ही फुन्नी वीडियोस से न्यूज़ सेक्शन पर जा सकते है पड़ है

हमारी पूरी टीम NEW SATEEK CHINGARI APP को डाउनलोड किया है आप भी करें और दूसरों को भी बताये स्वदेशी है तो अच्छा ही है

महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने ट्विटर पर जानकारी दी

महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने ट्विटर पर जानकारी दी कि उन्होंने चिंगारी ऐप डाउनलोड किया है, और संस्थापकों को बधाई दी है। इसने एक नई श्रृंखला प्रतिक्रिया निर्धारित की, और जल्द ही उनके लाखों अनुयायियों ने इस ऐप को डाउनलोड करना शुरू कर दिया। आनंद महिंद्रा ने कहा, “मैंने कभी टिकटोक डाउनलोड नहीं किया है लेकिन मैंने अभी चिंगारी डाउनलोड की है …

चिंगारी ऐप के सह-संस्थापक सुमित घोष ने अपने फेसबुक प्रोफाइल पर साझा किया कि आनंद महिंद्रा के ट्वीट के बाद, उनके ऐप को 50,000 डाउनलोड / घंटे की गति से डाउनलोड किया जा रहा है, जो भारत में सबसे तेज गति में से एक है। महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने इस ऐप को डाउनलोड करने के बाद ट्विटर पर इस कारण की सराहना की, ऐप में आश्चर्यजनक ट्रैक्शन और डाउनलोड देखा गया। यह पहले ही कुछ ही समय में 2.5 मिलियन डाउनलोड मार्क का उल्लंघन कर चुका है।

TIK TOK एप्लीकेशन पर विशेषज्ञों ने संदेह जताया था

आपको बता दे के TIK TOK एप्लीकेशन पर विशेषज्ञों ने संदेह जताया था के वह चीनी सरकार को इंडियन users का डाटा साझा करता है वही टिक टोक ने भी साफ़ तोर पर इंकार वह किसी भी प्रकार या किसी भी यूजर का डाटा किसी सरकार को साझा नहीं करता है।

पिछले महीने में चीन के साथ हुए विवादों को लेकर भारत ने कुछ अहम् कदम उठाये
गलवान घाटी में हमारे कुछ जवानो ने शहादत दी है देश को बचने में। वही से हमारे सैनिकों पर हमला किया और करीब 40 चीनी फौजी और तकलीबन 20 हमारे भारतीय जवान शहीद हो गए।

TIK TOK और UC Brawser ,WECHAT जैसे एप्लीकेशन प्रतिबंधन की सूची शामिल

China के लगातार दुर्ब्यवहार की वजह से भारत नै चीन पर Digital Strike कर दी। जिसमें चीन के तकलीबन 59 एप्लीकेशन को भारत प्रतिबंदित कर दिया है जिसमे TIK TOK और UC Brawser ,WECHAT जैसे एप्लीकेशन शामिल है

टिक टोक पर इंडियन USERS का बहुत बड़ा आंकड़ा था और तो टिक टोक से ही कमा और खा रहे थे पर देश से बढ़कर कुछ नहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here