आगरा। उत्तर प्रदेश कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को आगरा दीवानी में मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया था।

मजिस्ट्रेट के सामने पेश हुए अजय कुमार लल्लू और कांग्रेसी नेता विवेक बंसल को बीस-बीस हजार के निजी मुचलके पर सशर्त रिहा किया गया है।

इस दौरान कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और कांग्रेसी नेता विवेक बंसल को लखनऊ पुलिस लखनऊ लेकर जा रही है।

मीडिया से बात करते हुए कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कैमरे पर बेबाकी से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से आग्रह किया है

कि वह चाहे जितने कि मुकदमे लिखवा दें, अजय कुमार लल्लू को जेल भेज दें मगर प्रवासी मजदूरों के लिए उपलब्ध कराई जाने वाली बसों की अनुमति दें।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने आगरा जिला प्रशासन पर भी तीखी टिप्पणी की है।

बताते चलें कि उत्तर प्रदेश और राजस्थान के बॉर्डर आगरा फतेहपुर सीकरी थाना क्षेत्र में राजस्थान की रोडवेज बसों को यूपी सीमा से होकर गुजारने के मामले में अजय कुमार लल्लू के खिलाफ आगरा के फतेहपुरसीकरी थाने में धारा 188, 269,

तीन महामारी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। इसी मुकदमे के अंतर्गत कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को आगरा दीवानी में न्यायिक मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया था।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को न्यायिक मजिस्ट्रेट में बीस हजार के निजी मुचलके पर सशर्त रिहा किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here